CryptoCurrency (क्रिप्टो करेंसी) and BlockChain (ब्लॉकचेन) क्या है ?

three round silver and gold colored coins
Photo by Marta Branco on Pexels.com

तो दोस्तों अभी आप इंटरनेट में सुन रहे होंगे कि हर जगह क्रिप्टो करेंसी बिटकॉइन इस एरिया और ना जाने कितने सारे नाम आए दिन निकलते रहते हैं.

पर आखिर में यह क्रिप्टो करेंसी या ब्लॉकचेन है क्या.

तो दोस्तों आज मैं आपको बताने वाला हूं एकदम संक्षेप में कि क्या है क्रिप्टो करेंसी और ब्लॉकचेन कैसे यह एक दूसरे के साथ काम करते हैं और कैसे आप इस से पैसा कमा सकते हैं.

तो सबसे पहले आते हैं क्रिप्टो करेंसी के ऊपर.  क्रिप्टो का मतलब हुआ छुपाया हुआ जिसे मान लीजिए कोई कोई चीज आपने लिखा है उसे आप किस भाषा में या इस तरीके से लिखते हैं कि सिर्फ अगला ही समझ पाए और इस बीच में आपके कोई भी वह भाषा या उस चीज लिखा हुआ को ना समझ पाए उसे क्रिप्टो कहा जाता है.

सरल भाषा में कहा जाए तो उसे एक ऐसी भाषा में बदल देना जो सिर्फ उसे ही पता चलेगा जिससे आप यह चीज बताना चाहते हैं.

करेंसी का मतलब हो गया मुद्रा या पैसा,  जैसे भारत में अभी हमारा मुद्रा यह हमारा करेंसी जो है वह है रुपया.

ripple etehereum and bitcoin and micro sdhc card
Photo by Worldspectrum on Pexels.com

तू जब आप इन दोनों को मिला देते हैं तब बनता है क्रिप्टो करेंसी.  इसका मतलब यह है कि यह एक ऐसा मुद्रा है कि यह ऐसा एक पैसा है जो किसी के पास नहीं है मतलब इसे काबू में करना वाला या कंट्रोल करने वाला कोई नहीं है कोई देश नहीं है कोई सरकार से कंट्रोल नहीं कर सकती.

यह करेंसी इंटरनेट में चलता है मतलब आप इसके नोट बनाकर या सिक्के निकाल कर आप इस्तेमाल नहीं कर सकते.

यह तो हो गया क्रिप्टो करेंसी,  पर क्रिप्टो करेंसी को चलने के लिए भी कुछ चीजों की जरूरत पड़ती है.  जैसे कि ब्लॉकचेन.

अब ब्लॉकचेन का भी मतलब काफी सरल है ब्लॉक का मतलब हो गया एक हिस्सा और चीन का मतलब हो गया कड़ी.  जब आप कोई भी जानकारी को इस हिस्से में डालते रहते हैं तो वह हिसाब भर जाता है तो यह टेक्नोलॉजी अपने आप एक नया हिस्सा बनाता है और उसके पीछे यह जोड़ देता है जिसके कारण एक बहुत लंबा कड़ी बन जाता है.

इसे हम ब्लॉकचेन कहते हैं.

sign industry internet metal
Photo by Jievani on Pexels.com

क्रिप्टो करेंसी ब्लॉक चेंज पर चलता है जिससे कि यह बहुत ही सुरक्षित हो जाता है हैकर और अन्य लोगों से जो इसमें फ्रॉड करने का कोशिश करते हैं.  जब कोई भी क्रिप्टो करेंसी से लेन-देन करता है तो यह ब्लॉकचेन उसे जांच पड़ताल करता है और पता करता है कि यह लेनदेन सच में हुई है या नहीं.

और यह सारी जानकारी किसी शहर भर में स्टोर नहीं होता,  यह सब ब्लॉक्स में चोर होता है और यह सारा ब्लॉक पूरे इंटरनेट में हर कोई के कंप्यूटर में होता है.

अगर आप क्रिप्टो माइनिंग करते हैं तो आपके कंप्यूटर में भी यह ब्लॉक मौजूद होंगी.  जिससे कि अगर आप कोशिश करें अपने कंप्यूटर का यह ब्लॉक को बदलने के लिए तो आप अपना कंप्यूटर का ब्लॉक तो बदल पाएंगे पर मेरे कंप्यूटर या दूसरे अनेक कंप्यूटर का नहीं कर पाएंगे.

इससे आप फ्रॉड नहीं कर सकेंगे.

तो यह था बी सी चीज है जिसे आप को जाना पड़ेगा बिटकॉइन या एरिया को पूरी तरीके से जानने के लिए.  और इसी चीज को हम क्रिप्टो करेंसी कहते हैं.

क्रिप्टो करेंसी बहुत तरीके के होती है जैसे कि हमारी दुनिया में रुपए कई तरीका के होते हैं जैसे भारत में चलता है रुपया अमेरिका में डॉलर चलता है यूरोप में चलता है या यूरो चलता है उसी तरीका से इंटरनेट में क्रिप्टो करेंसी में बहुत तरीके के मुद्रा चलते हैं.

seven indian rupee banknotes hanging from clothesline on clothes pegs
Photo by Disha Sheta on Pexels.com

उनमें से सबसे पहला जो इजाद हुआ था वह है बिटकॉइन.

क्रिप्टो करेंसी की शुरुआत बिटकॉइन से ही हुई थी और यह देखते देखते काफी तेजी से बढ़ा है. एक समय में इसका दाम कुछ $1 हुआ करता था और अब यह 40 लाख के ऊपर बिकता है.

क्रिप्टो करेंसी में कुछ नामी मुद्राएं हैं बिटकॉइन, एरिया, रिपल और भी अन्य.

अगर आपको बिटकॉइन या एथेरियम के बारे में जानना है तो आप हमारे ब्लॉग पर यह सारी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं और अगर आपको कोई भी सवाल हो तो आप कमेंट सेक्शन में हमसे पूछ सकते हैं. 

Total
0
Shares
>